आखिर क्यों रात भर बीजेपी नेता के साथ अभद्रता करती रही पुलिस ?

Want create site? With Free visual composer you can do it easy.

बीजेपी नेता ब्रजेश त्रिपाठी की गिरफ्तारी और मारपीट के खिलाफ कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया. त्रिपाठी पर बांदा की महिला एसपी शालिनी के खिलाफ फेसबुक पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया. बीजेपी नेता का आरोप है कि पुलिस के जवान रात में उनको सादे कपड़ों में उठाकर ले गए थे और रातभर मारपीट की.उत्तर प्रदेश के बांदा में बीजेपी के मंडल अध्यक्ष ब्रजेश त्रिपाठी द्वारा जिले की महिला एसपी शालिनी के खिलाफ फेसबुक पर अभद्र टिप्पणी के बाद आईटी एक्ट के तहत हुई कार्रवाई के खिलाफ भाजपाई सड़क पर उतर आए. पहले करीब 200 भाजपाई जिला अस्पताल पहुंचे और फिर बाद में कोतवाली में इकट्ठा होकर बवाल करने लगे. करीब 3 घंटे तक कोतवाली छावनी में तब्दील रही. टिप्पणी करने वाले महुआ मंडल अध्यक्ष ब्रजेश त्रिपाठी का कहना है कि उनको बुधवार रात घर से सादे कपड़ों में आए पुलिस के जवान उठाकर ले गए और रात भर अज्ञात जगह पर मारपीट की. इसके बाद सुबह उनकी हत्या की तैयारी थी. मामले में एसपी पर आरोप लगाते हुए अपहरण और हत्या की साजिश रचने की तहरीर भी थाने में दी गई है. सीओ सिटी ने बताया कि करीब 200 की संख्या में भीड़ कोतवाली नगर में इकट्ठा थी. भाजपाइयों को लगा कि उनके नेता को आईटी एक्ट में दर्ज मुकदमे में जेल भेजा जा रहा है, जबकि यह जमानती धारा थी. उनको निजी मुचलके में छोड़ दिया गया है. करीब 3 घंटे तक बीजेपी जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में सीओ और कोतवाल को कार्यकर्ता घेरे रहे. साथ ही एसपी के खिलाफ एक तहरीर भी कोतवाल को लिखकर दी. बाद में इस संबंध में बीजेपी जिलाध्यक्ष लवलेश सिंह ने कहा, ‘हमारे मंडल अध्यक्ष ने एक कमेंट फेसबुक में किया था, जिससे नाराज होकर एसपी ने उन पर आईटी एक्ट का मुकदमा दर्ज कराया. इसके बाद बुधवार रात त्रिपाठी को घर से उठवाकर अज्ञात स्थान ले जाया गया और उन पर थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया गया. उन्होंने कहा कि एसपी ने नियम के विरुद्ध कार्रवाई कराई है. वहीं, वरिष्ठ बीजेपी नेता विजय बहादुर सिंह परिहार ने कहा, ‘हमारे मंडल अध्यक्ष की पहले रातभर अमानवीय तरीके से पिटाई की गई और सुबह खुद एसपी ने 20 थप्पड़ मारे.’ महामंत्री प्रेमनारायण द्विवेदी ने कहा, ‘बुधवार को हमारे चारों विधायक विधानसभा में यह मामला उठाएंगे.’ बता दें कि एसपी पर अश्लील कमेंट के बाद पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया और रात भर बीजेपी नेता की बुरी तरह पिटाई की. गुरुवार सुबह जिला अस्पताल से मेडिकल कराके बीजेपी नेता को जेल भेजने की तैयारी थी, लेकिन यह जानकारी जैसे ही फैली करीब 200 से 250 की संख्या में भाजपाई अस्पताल पहुंच गए. इसके बाद कोतवाली पहुंचे और हंगामा किया. दबाव में आकर पुलिस को बीजेपी नेता को छोड़ना पड़ा, लेकिन अब पुलिस जमानती धारा का हवाला देकर अपनी नाक बचाने का प्रयास कर रही है.

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *